42+ Navratri Wishes in Hindi


Wish this Navratri by sharing the quotes,sms and messages for whats-app and Facebook in Hindi at wishes51.

Happy Navratri sms for Whats-app

These Nine Night of Devotion, Spirituality and Happiness may full-fill your life with Prosperity.


– 1 –

माँ की आराधना का ये पर्व हैं, माँ के नौ रूपों की भक्ति का पर्व हैं, बिगड़े काम बनाने का पर्व हैं, भक्ति का दिया दिल में जलाने का पर्व हैं

 - 2 -  

इन आँखों से सदा माँ को देखु, इन कानो से माँ को सुनु, ये हाथ माँ के चरणों की धूल को सदा छुए ये पाँव सदा माँ के दरबार को ही जाये, सदा माँ का बीटा बना रहु माँ हर साल नवरात्र पे मिलने आये
 - 3 -  

वरात्री के इस पावन पर्व पर माँ नैना देवी आप के नैनो की रक्षा करे माँ चिंतपूर्णी आप की सभी चिंता दूर करे, माँ कामना देवी आपकी सभी मनोकामना पूरी करे
 - 4 - 

माँ का पर्व आता है; हज़ारों खुशियां लाता है; इस बार माँ आपको वो सब दे; जो आपका दिल चाहता है। शुभ नवरात्रि!
 - 5 - 

पिण्डजप्रवरारुद्रा चण्डकोयास्त्रकैर्युता! प्रसाद तनुते महयं चंद्रघण्टेति विश्रुता!! जय माँ चंद्रघण्टा! नवरात्रि की शुभकामनाएं!


– 6 –

नवरात्रों के आगमन की तैयारी; राम-सीता के मिलन की तैयारी; असत्य पर सत्य की जीत की तैयारी; हो सबको आज इन पवित्र त्यौहारों की बधाई। नवरात्रि की शुभकामनाएं!

 - 7 -  

प्यार का तराना उपहार हो; खुशियों का नज़राना बेशुमार हो; ऐसा नवरात्री उत्सव इस साल हो! शुभ नवरात्री। नव कल्पना नव ज्योत्सना नव शक्ति नव अराधना नवरात्रि के पावन पर्व पर पूरी हो आपकी हर मनोकामना।
 - 8 - 

या देवी सर्वभूतेषु प्रकृति रूपेण संस्थिता नमस्तस्वै नमस्तस्वै नमस्तस्वै नमो नम: ! जय माँ ब्रह्मचारिणी! नवरात्रि की शुभकामनाएं!

 - 9 -  

हमको था इंतज़ार वो घड़ी आ गई; होकर सिंह पर सवार माता रानी आ गई; होगी अब मन की हर मुराद पूरी; हरने सारे दुख माता अपने द्वार आ गई। नवरात्रि की हार्दिक शुभकामनाएं!

– 10 –

मेरी हंसी का हिसाब कौन करेगा; मेरी गलती को माफ़ कौन करेगा; ऐ खुदा मेरे सभी दोस्तों को सलामत रखना; वरना नवरात्रि में ‘लुंगी डांस’ कौन करेगा। नवरात्रि की शुभकामनाएं!

 - 11 -  

कुमकुम भरे क़दमों से आए माँ दुर्गा आपके द्वार, सुख संपत्ति मिले आपको अपार, मेरी और से नवरात्रि की शुभकामनाएं करें स्वीकार….
 - 12 - 

N = नव चेतना A = अखंड ज्योति V = विघ्न नाशक R = रत्जगेश्वरी A = आनंद दई T = त्रिकाल दर्शी R = राखन कारती A = आनंद मई माँ यह नवरात्रि आपके जीवन में प्रकाश का दीप जलाए आपको मेरी ओर से नवरात्रि की ढ़ेरो शुभकामनायें
 - 13 - 

देवी के कदम आपके घर में आयें. आप खुशहाली से नहायें, परेशानिया आपसे आँखें चुराएँ, मंगल नवरात्रे हो हमेशा आपके… आप सभी को नवरात्रि की हार्दिक शुभकामनाएं


– 14 –

पग-पग में फूल खिले, ख़ुशी आप सबको इतनी मिले, कभी न हो दुखों का सामना, यही है इस नवरात्रि शुभकामना हमारी…!

 - 15 -  

जिसका हमको था इंतजार आखिर वो घड़ी आ गई, होकर सिंह पर सवार माता रानी सबके घर आ गई, होगी अब हर मन की हर मुराद पूरी, हरने सारे दुख माता अपने द्वार आ गई..!
 - 16 -  

पहले माँ की पूजा, उसके बाद कोई काम दूजा, आए हैं शुभ दिन मेरी माँ के, माँ ने मेरी हर मनोकामना पूरी की हैं..!
 - 17 -  

लाल रंग की चुनरी से सजा माँ का दरबार, हर्षित हुआ मन, पुलकित हुआ संसार, नन्हें-नन्हें क़दमों से माँ आए आपके द्वार….. इस नवरात्रि यही हैं हमारी दुआ… “जय माता दी”


– 18 –

“माँ” की “आराधना” का ये “पर्व” है, _माँ की “9 रूपों की भक्ति” का ये पर्व है, बिगड़े काम बनाने_का ये पर्व है, “भक्ति” का “दिया_दिल_में_जलाने” का पर्व है…नवरात्रि…शुभ नवरात्रि..!

 - 19 -  

सारा “जहान” है जिसकी “शरण” में, “नमन” है उस “माँ” के “चरण” में, हम हैं उस माँ के “चरणों की धूल”, आओ “मिलकर माँ” को चढ़ाएं “श्रद्धा के फूल”
 - 20 - 

क्या पापी, क्या घमंडी, माँ के दर पर सभी शीश झुकाते हैं, मिलता है चैन तेरे दर पे मैया, झोली भरके सभी जाते हैं..!
 - 21 -  

दूर की सुनती हैं माँ, पास की सुनती हैं माँ, माँ तो अखिर माँ हैं, माँ तो हर भक्त की सुनती हैं…
 - 22 -  

माँ दुर्गा के आशीर्वाद से आपका जीवन सुखमय हो, इस नवरात्रि हमारी शुभकामनाएं आपके साथ है।
 - 23 -  

माता तेरे चरणों मे भेंट हम चढ़ाते हैं। कभी नारियल तो कभी फूल चढ़ाते हैं। और झोलियाँ भर भर के तेरे दर से लाते हैं।


– 24 –

दुर्गा अष्टमी के रूप में क्या मांगू मैं माँ से मुझे हैं सब कुछ मिला अरे खुशकिस्मत हूँ मैं जो मुझे दुर्गा अष्टमी के रूप मैं, माँ दुर्गा की आराधना करने का मौका मिला

 - 25 -  

इस दुर्गा पूजा पर आपकी ज़िन्दगी खुशियों से भरी हो दुनिया उजालो से रोशन हो, घर पर माँ दुर्गा का आगमन हो
 - 26 -  

सजा हे दरबार, एक ज्योति जगमगाई है, सुना हे नवरात्रि का त्योहार आया हैं, वो देखो मंदिर में मेरी माता मुस्करायी है… जय माँ दुर्गा..
 - 27 -  

माता आयी हैं, खुशियों का भण्डार लायी हैं सच्चे दिल से तो मांग कर देखो, माँ की तरफ से कभी ना नहीं होगी तो प्रेम से बोलो “जय माता दी”
 - 28 -  

पग-पग में फूल खिलें; ख़ुशी आप सबको इतनी मिले; कभी ना हो दुखों का सामना; यही है आपको हमारी तरफ से नवरात्रि की शुभकामना। नवरात्रि की शुभकामनाएं!
 - 29 -  

चाँद की चांदनी, बसंत की बहार फूलो की खुशबु, अपनों का प्यार मुबारक हो आपको नवरात्री का त्यौहार सदा खुश रहे आप और आपका परिवार
- 30 -  

नवरात्रि मनोकामना पूर्ती संदेश या देवी सर्व भूतेषु, शक्तिरूपेण संस्थिता, नमस्तस्यै, नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः नवरात्रि की हार्दिक शुभकामनाएं।
 - 31 - 

जगत पालनहार है माँ, मुक्ति का धाम है माँ, हमारी भक्ति का आधार है माँ, सबकी रक्षा की अवतार है माँ शुभ नवरात्री
 - 32 -  

नव दीप जलें, नव फूल खिलें, रोज़ माँ का आशिर्वाद मिले, इस नवरात्री आपको वो सब मिले जो आपका दिल चाहता हैं। शुभ नवरात्रि।
 - 33 -  

जब जब याद किया तुझे ए माँ तूने आँचल में अपने आसरा दिया। कलयुगी इस जहां में, एक तूने ही सहारा दिया।


– 34 –

हो जाओ तैयार, माँ अम्बे आने वाली हैं, सजा लो दरबार माँ अम्बे आने वाली हैं। तन, मन और जीवन हो जायेगा पावन, माँ के कदमो की आहट से, गूँज उठेगा आँगन।

  - 35 - 


सजा दरबार हैं और एक ज्योति जगमगाई हैं नसीब जागेगा उन जागरण करने वालो का नसीब जागेगा जागरण में आने वालो का वो देखो मंदिर में मेरी माँ मुस्करायी हैं
- 36 -  

देवी माँ के कदम आपके घर में आयें, आप ख़ुशी से नहायें, परेशानियाँ आपसे आँखें चुरायें, नवरात्रि की आपको ढेरों शुभ कामनाएं। शुभ नवरात्रि.
- 37 -  

माँ दुर्गे, माँ अंबे, माँ जगदांबे, माँ भवानी, माँ शीतला, माँ वैष्णाओ, माँ चंडी, माता रानी मेरी और आपकी मनोकामना पूरी करे
- 38 -  

सारा जहां है जिसकी शरण में, नमन है उस माँ के चरण में, हम है उस माँ के चरणों की धूल, आओ मिलकर माँ को चढ़ाएं श्रद्धा के फूल।


– 39 –

शेरोन वाली मैया के दरबार मैं दुःख दर्द मिटाये जाते हैं, जो भी दर पर आते हैं, शरण में ले लिए जाते हैं..!!


– 40 –

हे माँ तुमसे विश्वास ना उठने देना, तेरी दुनिया में भय से जब सिमट जाऊं, चारो ओरअँधेरा ही अँधेरा घना पाऊं, बन के रोशनी तुम राह दिखा देना..!

– 41 –

क्या हैं पापी क्या हैं घमंडी माँ के दर पर सभी शीश झुकाते मिलता हैं चैन तेरे दर पे मैया झोली भरके सभी हैं जाते..!!!!

- 42 - 

जिंदगी की हर तमन्ना हो पूरी, कोई भी आरजू ना रहे अधूरी, करते हे हाथ जोड़कर माँ दुर्गा से बिनती की आपकी हर मनोकामना हो पूरी




Author: Vikram Chouhan Udaipur Web Designer

Vikram Chouhan is a Professional Blogger, Creative Website Designer & Developer, SEO Expert from Udaipur, Rajasthan. He is also Extremely Passionate Creative Entrepreneur. If you are looking for create your Professional Website, Mail at ervikramnathchouhan@gmail.com.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.